गैस का इलाज हिंदी | Gas Ka Ilaj In Hindi

- April 24, 2017
खाना जिसकी वजह से हम कमाते हैं, एक परिवार बनाते हैं, वह ही रोगों का घर हमारे शरीर को बना देगा यह आपने सोचा भी नहीं होगा। लेकिन हम जब यही खाना अपनी जीभ के लिए खाने लगते हैं तो यही हमारे लिए सजा बन जाता है, अधिक तला खाने, चीज़, बटर, मैदा, खट्टे खाने, और बाहर के रखे हुए खाने ही हमारे शरीर में गैस को पैदा करने लगते हैं। गैस आज 80 % लोगों को है, और गैस का इलाज न होने पर ही पेट की अन्य बीमारिया उत्पन्न होतीं हैं, इसीलिए गैस का इलाज करना बहुत ज़रूरी है।
गैस का इलाज in हिंदी- gas ka ilaj in hindi


आज का आर्टिकल मैं आपके लिए लेकर आया हूँ जिसमे मैं बात करूँगा, गैस होने का क्या कारण है, गैस के क्या लक्षण है, गैस का इलाज हिंदी में और गैस में क्या खाएं और गैस होने पर क्या न खाए। तो चलिए जानते हैं गैस के घरेलू नुस्खे क्या हैं और इसके कारण।

गैस का कारण :


अधिक मसाले मिर्च , चिकना और एसिडिक खाना खाने से और आज कल प्रचलन में चलने वाला फ़ास्ट फ़ूड और चीज़ का खाना गैस का कारण बनता है। जब हम ऐसा खाना खाते हैं तो यह सही से पच नहीं पता और पेट में पड़ा पड़ा सड़ जाता है, सड़ने की वजह से इसमें तमाम तरह की गन्दी गैसे पैदा होने लगती है और पेट में दर्द होने लगता है। जब गैस ज्यादा बनने लगती है तब हमारे शरीर में और भी बीमारिया पैदा होती है जैसे की सिर में दर्द होना, पैरों में दर्द होना, बदन दर्द होना, उलटी होना, जी मिचलाना, एसिडिटी होना।

जब गैस इधर उधर जाती है तो यही शरीर में बेचैनी पैदा करती है जिससे आपका किसी काम में मन नहीं लगता। ज्यादा गैस बनने से आपको एसिडिटी होगी और ज्यादा एसिडिटी हो जाने पर आपको अल्सर की शिकायत पैदा हो सकती है। इस लिए पेट को दुरुस्त रखने बहुत ज़रूरी है। पेट की समस्या से ही न जाने कितनी समस्याएं पैदा होती है। अगर आपको सुबह अपना पेट खाली करने में दिक्कत आती है तो इसका मतलब है कि आपको कब्ज हो सकता है। इस लिए सुबह उठते ही पानी पीना न भूले, अगर गुनगुना पानी पीते हैं तो और अछि बात है।

गैस होने के लक्षण:


आपको गैस की प्रॉब्लम हुई है यह आपको कैसे पता चलेगी, क्यों की जब तक आपको पता नहीं चलेगा कि आपको गैस है तो आप गैस का इलाज कैसे करेंगे। तो चलिए जानते है गैस होने के लक्षण क्या हैं।

  • पेट फूल जाता है
  • दोनों पसलियों के बीच में दर्द होता है
  • पेट में दर्द उठता है
  • सिर में दर्द होता है
  • उल्टियां आने लगती है
  • अफरा लगता है
  • बेचैनी होने लगती है
  • चक्कर आते है
  • सांस फूलती है
  • जी मिचलाता है

अगर ऊपर दिए गए लक्षणों में से कोई भी लक्षण आपको दिखाई देते हैं तो इसका मतलब है कि आपको गैस का इलाज करना चाहिए। तो आपको अगर gas ka gharelu ilaj  करना है तो मैं आपको बताता हूँ।


गैस का इलाज | Gas Ka Ilaj In Hindi


  • अगर आपको कब्ज का प्रॉब्लम है तो सबसे पहले इसका इलाज करने की ज़रुरत है क्यों की गैस का इलाज तभी हो सकता है जब पेट साफ हो यानि की कब्ज न हो।
  • 50 ग्राम हरड़, 10 ग्राम निशोथ, 40 ग्राम पिप्पली को मिलाकर पीस लें और चूर्ण बना लें। इस चूर्ण को 3 - 3ग्राम सुबह और शाम को लेना है। इससे पेट साफ होगा और गैस बाहर निकल जाएगी।
  • सुबह उठने के बाद रोज़ाना खाली पेट गुनगुना पानी पियें, इससे आपका पेट जल्दी से साफ़ होगा, और आप कब्ज से राहत पाएंगे। जब पे में कब्ज नहीं रहेगी तो आपको गैस का प्रॉब्लम ही नहीं होगा।
  • गैस का इलाज करने के लिए पीलू के फूल 10 ग्राम, 10 ग्राम निशोथ, 10 ग्राम जवाखार और 10 ग्राम हरड़ मिलाकर पीस लें और इसका चूर्ण बना ले, इस चूर्ण की 5 ग्राम मात्रा सुबह और 5 ग्राम शाम को लें। इससे गैस का प्रॉब्लम नहीं होगा।
  • Gas ka ilaj करने के लिए ताजा दही में थोड़ा सा कॉस्टर आयल मिला ले, लगभग 1 चम्मच कॉस्टर आयल काफी है। दही और कास्टर आयल को मिला कर लेने से गैस निकल जाएगी।
  • एक चम्मच खाने वाला सोडा, आधा चम्मच पिसी अजवाइन, आधा चम्मच काला नमक मिलाकर एक गिलास में डालकर तुरंत पिए, 15 मिनट के अंदर पेट की साडी गैस बाहर निकल जाएगी।
  • खाने वाला सोडा , काला नमक, और लौंग का पाउडर एक चुटकी हींग, सब कुछ 3 ग्राम लेकर हींग मिलाकर एक गिलास पानी में मिलाएं और पिए, सोडा डालने से तुरंत झाग बनता है और यह झाग बने तुरंत ही आपको पीना है, नहीं तो यह ख़राब हो जाता है। इसे पीने से तुरंत गैस बाहर निकल जाती है।
  • गैस का इलाज करने के लिए एक नींबू का रस, थोड़ा काला नमक, एक चम्मच पिसी अजवाइन इन सभी को एक गिलास में पानी फैलकर अच्छे से मिलाएं, इसको पीने से गैस की समस्या खत्म हो जाती है। गैस का इलाज करने के लिए यह एक सस्ता घरेलु नुस्खा है।
  • गैस के रोगी को नियमित खाना खाने के बाद थिंदी सी मात्रा गुड़ कहानी चाहिए, गुड़ में पेट को साफ़ रखने का गुण पाया जाता है, इससे गैस भी बाहर निकल जाती है।
  • जिसको खाना खाने के बाद हमेशा गैस बन ही जाती है उसे आने खाने में थोड़ी मात्रा लहसुन की शामिल करनी चाहिए। अगर आप लहसुन नकहिं खाते हैं तो खाना खाने के बाद गुनगुने पानी को पिए।
  •  गैस का इलाज करने के लिए कच्ची मूली खाना फायदेमंद रहता है, अपने दोपहर के खाने में मूली और खीरे को शामिल करें। मूली की उबली हुई सब्जी खाने से भी गैस की प्रॉब्लम दूर होती है।
  • जो अपना खाना सही से नहीं पचा पाते हैं, उन्हें रोजाना दोपहर के खाने में 1 कटोरी दही और 1आधा चम्मच काला नमक डालकर खाएं।
  • दोपहर के खाने में काला नमक मिला हुआ छाछ लगभग एक गिलास पीना चाहिये इसको पीने से खाया हुआ खाना अच्छे से पच जाता है और अपच होने का खतरा नहीं रहता, अगर खाना अछि तरह से पचेगा तो गैस होने की आशंका खत्म हो जाती है।
  • काला ज़ीरा, सफ़ेद ज़ीरा, निशोथ, अजमोद, सोंठ,काली मिर्च, हरी इलायची इन सभी को 15 ग्राम लेकर पीस ले और महीन चूर्ण बना लें। अब रोजाना 3 ग्राम चूर्ण सुबह और शाम चूर्ण पानी के साथ ले, गैस बाहर निकल जाएगी।

गैस में परहेज : क्या खाएं

गैस की बीमारी कभी कभी होती है तो ऊपर दिए हुए गैस के घरेलू नुस्खों में से कोई नुस्खा आजमाकर आप गैस का इलाज कर सकते हैं। लेकिन अगर आपको हमेशा गैस की प्रॉब्लम हो जाती है तो आपको अपने खाने पर विशेष ध्यान रखना होगा। आपको ऐसे खाने से बचना होगा जो गैस पैदा करते हैं साथ ही आपको सुपाच्य खाना खाना होगा। तो चलिए इन बातों को ध्यान में रखें जो मैं आपको बताने जा रहा हूँ।

  • सुबह उठने के बाद सबसे पहले 2 गिलास गुनगुना पानी पियें
  • ये सुनिश्चित करें की आपका पेट पूरी तरह से खाली हो गया है।
  • सुबह का नाश्ता अच्छी तरह से करें और कोई भी तली हुई चीज़ न खाएं।
  • अब दोपहर के खाने में दही या छाछ काले नमक के साथ प्रयोग करें।
  • खाना खाने के बाद अमरुद या थोड़ा सा पपीता खाये।
  • अपने खाने में थोड़ी भुनी हुई हींग का प्रयोग करें।
  • शाम को हल्का नाश्ता करें इसमें तले हुए पदार्थ नहीं होने चाहिए।
  • हरी सब्जियों का ही प्रयोग करें, भरी सब्जियां जिनसे गैस बनती है उन्हें न खाए।
  • दिन में एक बार ही चाय या कॉफ़ी पियें, क्यों की चाय गैस और एसिडिटी को बढाती है।
  • रात को हल्का खाना खाएं और इसमें लहसुन का इस्तेमाल करें।
  • ऊपर बताये हुए चूर्णों में से कोई एक चूर्ण बनाये और नियमित रूप से उसका प्रयोग करें।
  • कोल्ड ड्रिंक, डेरी प्रोडक्ट, और डिब्बा बंद चीजे न खाए।
  • चीज़ से बनी चीजें बिलकुल न खाए।
  • खाने में इस्तेमाल तेल अच्छा होना चाहिए। और बहुत कम मात्रा में तेल का इस्तेमाल करें।
  • समोसा, चाउमीन, भटूरे, पाव भाजी जैसे भोजन आपको बंद करने होंगे।
  • खाना खाने के 30 मिनट तक पानी नहीं पीना है, अगर पानी पीना चाहते हैं तो 5 चम्मच पानी पीकर कुल्ला कर दें।
  • 30 मिनट के बाद 1 गिलास गुनगुना पानी पियें।
  • भोजन के समय सलाद पहले खाये फिर खाना खाएं, जितना हो सके सलाद ज्यादा खाये।

आज आपने गैस का इलाज जाना और साथ ही ये भी जाना की गैस कैसे हो जाती है और गैस में क्या खाना खाएं और क्या नहीं खाये। मैंने आपको गैस के घरेलू नुस्खे बताये हैं कि जिनसे आपको सबसे अच्छा इलाज मिल सके।

अगर आपको मेरा यह आर्टिकल अच्छा लगा तो इसे अपनेदोस्तों के साथ शेयर करके दूसरों को भी बताएं, क्यों की अगर आप दूसरों की मदद करेंगे तो आपको बहुत अच्छा महसूस होगा।
Advertisement
 

Start typing and press Enter to search